ऐसा गेंदबाज़ जिसने वनडे में अपने कोटे के ओवरों में से 8 ओवर दिए मेडन

आज एक ऐसे गेंदबाज़ के बारें में बात करेंगे जिसने न केवल भारत में बल्कि विदेशी मिटटी पर भी अपनी गेंदबाज़ी से बल्लेबाज़ों को खूब छकाया। 

1591508368New Project (2).jpg

भारतीय क्रिकेट में वैसे तो कई महान बल्लेबाज़ हुए, जो विदेशो में जाकर भी अच्छे खासे रन बनाये। लेकिन जैसा कि सभी जानते हैं कि बिना गेंदबाज़ों के क्रिकेट अधूरा है। इसलिए हम आज एक ऐसे गेंदबाज़ के बारें में बात करेंगे जिसने न केवल भारत में बल्कि विदेशी मिटटी पर भी अपनी गेंदबाज़ी से बल्लेबाज़ों को खूब छकाया। 

यह गेंदबाज़ हैं भारत के महान लेफ्ट आर्म ऑर्थोडॉक्स स्पिनर बिशन सिंह बेदी। बिशन सिंह बेदी ने भारत के लिए 1966 से 1979 तक क्रिकेट खेली। इस दौरान उन्होंने कई रिकॉर्ड अपने नाम किये। 

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया में एक सीरीज में लिए 30 से ज्यादा विकेट 

बिशन सिंह बेदी अब तब भारत के इकलौते गेंदबाज़ हैं जिन्होंने विदेशी सरजमीं पर किसी सीरिज में 30 से ज्यादा विकेट लिए है। उन्होंने यह कारनामा 1977-78 टेस्ट सीरीज के दौरान किया था। यह 5 मैचों की सीरीज थी जिसमे उन्होंने 31 विकेट झटके थे। उनके शानदार प्रदर्शन के बावजूद भारत यह सीरीज 3-2 से हार गया। 

Bishan Singh Bedi

इस सीरीज में बेदी सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज़ है। उनके बाद वैन क्लार्क थे जिन्होंने 28 विकेट लिए थे। तीसरे नम्बर पर भारत के ही BS चंद्रशेखर थे जिन्होंने 28 विकेट झटके थे। सीरीज के टॉप 3 में दो भारतीय गेंदबाज़ों का होना बताता है कि भारत की गेंदबाज़ी उस सीरीज में शानदार थी।   

बेदी ने इस सीरीज में 219.7 ओवर डाले थे जिनमे से  39 ओवर मेडन थे। इस दौरान उन्होंने कुल 740 रन देकर 31 विकेट झटके थे। उनका बेस्ट परफॉरमेंस एक पारी में 55 रन देकर 5 विकेट था। इसके अलावा उन्होंने एक टेस्ट मैच में 194 देकर 10 विकेट भी झटके थे। 

किसी सीरीज में सबसे ज्यादा विकेट लेने का रिकॉर्ड इंग्लैंड के सिडनी बार्न्स के नाम है. उन्होंने 1913/14 टेस्ट सीरीज में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 49 विकेट झटके थे।

ODI में भारतीय गेंदबाज़ द्वारा सबसे किफायती गेंदबाज़ी स्पेल  

बिशन सिंह बेदी ने भारत के लिए ODI इतिहास में सबसे किफायती गेंदबाज़ी स्पेल डाला है। उन्होंने यह कारनामा 1975 में ईस्ट अफ्रीका के खिलाफ किया था। उस समय 60 ओवर का वनडे मैच होता था। इसलिए एक गेंदबाज़ 12 ओवर डालता था। बेदी ने अपने कोटे के 12 ओवर में 8 मेडन डालकर केवल 6 रन देकर 1 विकेट चटकाया। 

यह भी पढ़ें: 5 ऐसे क्रिकेटर जिन्होंने Cricket के अलावा दूसरे खेलों में भी कमाया नाम

वनडे क्रिकेट का शायद यह सबसे किफायती बोलिंग स्पेल होगा। ईस्ट अफ्रीका इससे पहले कभी इतनी अच्छी बोलिंग का सामना नहीं किया था। 55.3 ओवर में केवल 120 रन ही बना सके। यह वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा ओवर खेलकर सबसे कम रन बनाने का रिकॉर्ड है।