3 इंटरनेशनल क्रिकेट ग्राउंड जिसकी बाउंड्री लाइन के अंदर है पेड़

आपको जानकर हैरानी होगी इंटरनेशनल लेवल पर ऐसे 3 क्रिकेट ग्राउंड हैं जिसके अंदर पेड़ है। जी हाँ, यह सच है। बात हैरान करने वाली जरूर है

1592925582New Project (3).jpg

गलियों और मैदान में क्रिकेट खेलते हुए सबसे बड़ी दिक्कत आती है वहां पर बने गड्ढे, पेड़ और आसपास के घर। ढंग का ग्राउंड न होने के कारण अक्सर खेलने वाला बल्लेबाज़ अपना मनमुताबिक शॉट नहीं खेल पाता है। इसके लिए गली क्रिकेट में कुछ रुल भी बने होते हैं जैसे अगर गेंद किसी के घर में गयी तो बल्लेबाज़ आउट और गेंद भी उसी को लानी होगी आदि।  

वहीं गावों में भी क्रिकेट खेलने वालों को भी  ऐसी ही बहुत सारी दिक्कतों को झेलना पड़ता है। मैदान में गड्ढे और आसपास खेत और उनमे फसल होने के कारण बल्लेबाज़ अपने शॉट को खुलकार नही खेल सकता है। ये सब सारी चीज़ें क्रिकेट खेलने वालों को दिक्कत पैदा करती हैं। लेकिन फिर भी लोग कोई न कोई जुगाड़ करके खेलते हैं। 

आपको जानकर हैरानी होगी इंटरनेशनल लेवल पर ऐसे 3 क्रिकेट ग्राउंड हैं जिसके अंदर पेड़ है। जी हाँ, यह सच है। बात हैरान करने वाली जरूर है लेकिन यह सच है इन क्रिकेट ग्राउंड के अंदर पेड़ है या रहा करते थे। आईये उसके बारें में विस्तार से जानते हैं। 

1- पीटरमैरिट्सबर्ग, दक्षिण अफ्रीका (सिटी ओवल क्रिकेट ग्राउंड)

Pietermaritzburg, South Africa

दक्षिण अफ्रीका के पीटरमैरिट्सबर्ग में सिटी ओवल क्रिकेट ग्राउंड एक ऐसा ग्राउंड है जिसके अंदर 'ओक' का एक पेड़ है। यहाँ जब खेल नहीं होता है तब भी लोग इस पेड़ को देखने आते हैं। यह अपनी तरह का एक यूनीक ग्राउंड है। 

इस ग्राउंड में दो अंतर्राष्ट्रीय मैचों - भारत बनाम नामीबिया और श्रीलंका बनाम बांग्लादेश का आयोजन हो चूका है, दोनों ही 2003 के विश्व कप मैच थे। क्रिकेट के 2 दिग्गज, सचिन तेंदुलकर और सौरव गांगुली ने इस मैदान पर शतक बनायें है।आपको जानकर हैरानी होगी कि विश्व कप में सचिन तेंदुलकर की सर्वोच्च व्यक्तिगत पारी इसी मैदान पर आई थी।

वेन्यू नियम के अनुसार यदि गेंद पेड़ के किसी भी पार्ट से टकराती है, तो बल्लेबाज को 4 रन दिया जाता है। इस ग्राउंड पर डोमेस्टिक मैच खेले जाते हैं। 

2- एम्स्टलवीन, नीदरलैंड (VRA क्रिकेट ग्राउंड)

Amstelveen

नीदरलैंड के एम्स्टलवीन में VRA क्रिकेट ग्राउंड के अंदर एक बहुत बड़ा पेड़ है। इस ग्राउंड में 21 अंतराष्ट्रीय एकदिवसीय मैच और 6 T20 अंतराष्ट्रीय मैच हो चुके हैं। इस क्रिकेट ग्राउंड ने कुछ हाई-प्रोफाइल ODI मैचों की मेजबानी की है, जिसमें 1999 का विश्व कप मैच और 2004 में भारत, पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया के बीच वीडियोकॉन कप का एक मैच शामिल है।

हालांकि, नीदरलैंड ने पिछले दशक में किसी हाई-प्रोफाइल अंतरराष्ट्रीय मैचों की मेजबानी इस मैदान पर नहीं की है। 

3- सेंट लॉरेंस ग्राउंड, केंट (ब्रिटेन)

St Lawrence Ground

इंग्लैंड के केंट काउंटी क्रिकेट टीम का सेंट लॉरेंस ग्राउंड क्लब का घरेलू मैदान है। इस ग्राउंड में बाउंड्री लाइन के अंदर 27 मीटर ऊंचा चूना का पेड़ था। हालांकि, 2005 में यह आंधी आने के कारण गिर गया। यह पेड़ 200 साल पुराना था। इसके गिरने के बाद इसकी याद में फिर से एक पेड़ स्टेडियम के अंदर लगाया लेकिन इस बार यह बाउंड्री लाइन के बाहर लगाया गया।

1999 में इस पेड़ में हार्टवुड फंगस लग गए थे। जिसे ठीक करके इस पेड़ को अगले 10 साल के लिए फिर से जीवन दान दिया गया। लेकिन 2005 में यह तेज आंधी की वजह से गिर गया।