टेस्ट क्रिकेट के 2 दिग्गज बल्लेबाज़, जो वनडे में नहीं लगा पाए एक भी शतक

टेस्ट क्रिकेट के दो महान बल्लेबाज़, जिन्होंने टेस्ट में कई शतक लगाये लेकिन वनडे करियर में एक भी शतक लगा पाए। इस लिस्ट में एक पाकिस्तान और एक इंग्लैंड का बल्लेबाज़ है .

1587409521Test Cricket Facts.jpg

क्रिकेट में टेस्ट क्रिकेट बहुत ही मुश्किल फार्मेट माना जाता है। इसमें बहुत ही कम खिलाड़ियों को खेलने का मौका मिलता है। बहुत ही कम खिलाड़ी है जो इस फार्मेट में लम्बे समय के लिए खेल पाते हैं और रिकॉर्ड बना पाते हैं।

दुनिया के कुछ ऐसे भी खिलाड़ी हैं जिन्होंने टेस्ट क्रिकेट में बहुत बड़े रिकॉर्ड बनाये हैं लेकिन जब बात वनडे क्रिकेट की आती है तो वनडे फार्मेट में उनका रिकॉर्ड धूमिल हो जाता है। आज हम ऐसे ही टेस्ट क्रिकेट के दो महान बल्लेबाज़ों के बारे में बात करेंगे जिन्होंने अपने वनडे करियर में एक भी शतक लगा पाए। 

यह 2 खिलाड़ी हैं- पाकिस्तान के मिस्बाह-उल-हक और इंगलैंड के माइकल वान। दोनों ही बल्लेबाज़ टेस्ट क्रिकेट में अपने देश की कप्तानी की है और बल्लेबाज़ी में कई रिकॉर्ड भी बनाये हैं। लेकिन इन दोनों बल्लेबाज़ों के खाते में एक भी वनडे शतक नहीं है। 

1- मिस्बाह-उल-हक

Misbah Ul Haq

मिस्बाह-उल-हक ने एकदिवसीय क्रिकेट में बिना शतक लगाए सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज़ है। उन्होंने वनडे क्रिकेट में एक भी शतक नहीं बनाया है। वह 5 बार 90 रन या इससे ज्यादा बनाये हैं लेकिन इसे शतक में तब्दील करने में असफल रहे हैं। 

 2002 से 2015 तक 13 साल के अपने करियर में मिस्बाह-उल-हक  ने 162 वनडे मैच में 5,122 रन बनाकर 42 अर्धशतक बनाए।

उनका नाबाद 96 रन का सर्वोच्च स्कोर 2013 में वेस्टइंडीज के खिलाफ द ओवल में बना। वह दक्षिण अफ्रीका में 2007 के टी 20 विश्व कप में अपने शानदार प्रदर्शन के बाद पाकिस्तान की ओर से नियमित खिलाड़ी बने थे।

उन्होंने ज्यादातर मध्य क्रम में बल्लेबाजी की। मिस्बाह-उल-हक अपनी धीमी बल्लेबाज़ी के लिए जाने जाते हैं। वनडे में उनकी 43.40 की औसत है। मिस्बाह ने आखिरी बार 2015 के विश्व कप में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एडिलेड ओवल में अपना आखिरी वनडे मैच खेला था। 

2- माइकल वॉन 

Micheal Vaughan

माइकल वॉन इंग्लैंड टीम के महान बल्लेबाज़ माने जाते हैं। माइकल वॉन इंग्लैंड क्रिकेट टीम के लिए एक प्रेरणादायक कप्तान थे। हालाँकि वनडे करियर उनका बहुत अच्छा नहीं है। उन्होंने 86 वनडे मैचों में 27.15 के औसत से 1,982 रन बनाए। यह जानकर आश्चर्य होता है कि वह 50 ओवर के प्रारूप में 
कोई शतक नहीं बना सके।

2001 से 2007 तक इंग्लैंड के लिए खेलने वाले माइकल वॉन ने वनडे में 16 अर्धशतक बनाये जिसमे ज़िम्बाब्वे के खिलाफ नाबाद 90* रन उनका सर्वोच्च स्कोर है। इसके अलावा, इसके बाद उनका सर्वोच्च स्कोर क्रमशः दक्षिण अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 83 और 86 है।

यह भी पढ़ें: भारतीय टीम के कुछ सबसे खराब क्रिकेट रिकॉर्ड, जिन पर प्रशंसकों को गर्व नहीं होगा

माइकल वॉन 83 पारियों में नौ बार 0 पर ऑउट हुए थे। वॉन ने आखिरी बार 2007 विश्व कप के सुपर 8 में वेस्ट इंडीज के खिलाफ एकदिवसीय क्रिकेट खेला था।