नहीं जानते होंगे आप, ब्रेट ली के बड़े भाई भी खेल चुके हैं intl क्रिकेट

बहुत कम लोगों को पता होगा कि ब्रेट ली के बड़े भाई भी तेज गेंदबाज़ थे और वह भी ऑस्ट्रेलिया के लिए क्रिकेट खेल चुके हैं।

1596980822New Project.jpg

ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज़ ब्रेट ली के बारें में सभी जानते हैं। ब्रेट ली की गिनती ऑस्ट्रेलिया के महान गेंदबाजों में से एक में होती है। लेकिन बहुत कम लोगों को पता होगा कि ब्रेट ली के बड़े भाई भी तेज गेंदबाज़ थे और वह भी ऑस्ट्रेलिया के लिए क्रिकेट खेल चुके हैं।

आइये जानते हैं कि ब्रेट ली के बड़े भाई का क्या है नाम है और उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के लिए कितने मैच खेले हैं? 

ब्रेट ली के तीन भाई थे। उनमे उनके बड़े भाई का नाम शेन ली है। शेन ब्रेट ली से 3 साल बड़े हैं। शेन का जन्म 8 अगस्त 1973 को हुआ था जबकि ब्रेट ली का जन्म 8 नवंबर 1976 को हुआ था। शेन ने ऑस्ट्रेलिया के लिए 1995 में डेब्यू किया था तो वहीं ब्रेट ली ने 1999 से टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू करके अपने करियर की शुरुआत की थी। शेन ऑस्ट्रेलिया के लिए केवल वनडे क्रिकेट ही खेल पाए जबकि ब्रेट ली ने क्रिकेट के तीनो फार्मेट में ऑस्ट्रेलिया का प्रतिनिधित्व किया। 

Brett Lee and Shane Lee

शेन ली ने ऑस्ट्रेलिया के लिए कुल 45 वनडे मैच खेले हैं। उन्होंने अपना डेब्यू 17 दिसंबर 1995 को वेस्टइंडीज के खिलाफ किया था। अपने 45 वनडे मैच के करियर में उन्होंने कुल 48 विकेट लिए। इसके अलावा उन्होंने 477 रन भी बनाये। शेन ने अपना आखिरी वनडे मैच 2001 में भारत के खिलाफ खेला था। 

चोट की वजह से छोड़ी क्रिकेट 

घुटने में चोट की वजह से शेन ली को क्रिकेट छोड़ना पड़ा। 29 साल की उम्र में 2002 में उन्होंने क्रिकेट को अलविदा कहा। इस दौरान उनके छोटे भाई ब्रेट ली भी ऑस्ट्रेलिया की तरफ से खेलने लगे थे। दोनों ने ऑस्ट्रेलिया के लिए साथ में भी क्रिकेट खेला। 

Brett Lee and Shane Lee

युवराज सिंह को शेन ली ने ही पहली बार इंटरनेशनल क्रिकेट में आउट किया था. 

मार्क वा और स्टीव वा के बाद ब्रेट ली और शेन ली ऑस्ट्रेलिया की नामी जोड़ी रही है। वर्तमान में ऑस्ट्रेलिया की तरफ से भाइयों की जोड़ी में मिचेल मार्श और शॉन मार्श खेलते हैं। 

क्रिकेट में कई भाइयों को साथ में खेलते हुए देखा गया है। अब भी बहुत सारे भाइयों की जोड़ी साथ में इंटरनेशनल क्रिकेट खेलती हैं। भारत की तरफ से हार्दिक पांड्या और कृणाल पांड्या इसके अलावा इंग्लैंड की तरफ से सैम करन और टॉम करन इसका ताजा उदहारण है। 

यह भी पढ़ें: 'डायमंड डक' और 'गोल्डन डक' पर आउट होने भारतीय खिलाड़ियों का रिकॉर्ड

हालांकि ऐसा देखा गया है कि जब दो भाई साथ में क्रिकेट खेलते हैं तो दोनों भाई अच्छा करते हैं लेकिन ब्रेट ली के केस में ऐसा नहीं है। ब्रेट ली ने क्रिकेट में इतना नाम कमाया कि लोग उनके बड़े भाई को भूल चुके हैं.